कितने गंभीर रूप से प्रदूषित क्षेत्रों की पहचान की गई है?

राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्डों के परामर्श से केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने देश के 24 क्षेत्रों को गंभीर रूप से प्रदूषित क्षेत्रों के रूप में पहचाना है। यह हैं- भद्रावती (कर्नाटक), चेम्बूर (महाराष्ट्र), डिगबोई (असम), गोविंदगढ़ (पंजाब), ग्रेटर कोचीन (केरल), कला-अम्ब (हिमाचल प्रदेश), परवाणू (हिमाचल प्रदेश), कोरबा (मध्य प्रदेश), मनाली (तमिल नाडु), नार्थ अरकोट (तमिल नाडु), पाली (राजस्थान), तालचेर (ओडिशा), वापी (गुजरात), विशाखापत्तनम (आंध्र प्रदेश), धनबाद (बिहार), दुर्गापुर (पश्चिम बंगाल), हावराह (पश्चिम बंगाल), जोधपुर (राजस्थान), नागदा-रतलाम (मध्य प्रदेश), नजफगढ़ ड्रेन (दिल्ली), पतनचेरु बल्लाराम (आंध्र प्रदेश), सिंगरौली (उत्तर प्रदेश), अंकलेश्वर (गुजरात), तारापुर (महाराष्ट्र)